मुझे दर्शन दे गई मां कल रात सोते-सोते

तर्ज

यूं ही कोई मिल गया था

मुझे दर्शन दे गई मां कल रात सोते-सोते 2

फिर बीती रात मेरी मां से बात होते होते 2

मुझे दर्शन….

फिर बीती रात…

मुझे याद है अभी भी कल रात का नजारा 2

कल रात का नजारा

वह सामने खड़ी थी 2

आभास होते होते 2

वह सामने खड़ी थी आभास होते होते 2

मुझे दर्शन दे गई मां…

फिर बीती रात मेरी…

जैसी सामने है मूरत वैसे ही मैंने देखी 2

मैं तो चरणों में पड़ी थी 2

यू निहाल होते होते 2

मैं तो चरणों में पड़ी थी यूं निहाल होते-होते 2

मुझे….

मुझे गोद में बिठाया और प्यार से मां बोली 2

तू तो अब भी रो रहा है 2

मेरे पास होते होते 2

तू तो अभी रो रही है मेरे पास होते-होते 2

मुझे दर्शन दे गई मां कल रात सोते सोते….

फिर बीती रात मेरी मां से बात होते होते…